कोयला चोरी विडियो के बाद अब बांकीमोंगरा के ढाबों में खुलेआम शराब परोसने का विडियो सोशल मीडिया में खुब हो रहा वायरल..

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
कोरबा-बांकीमोंगरा/स्वराज टुडे:- सारे नियमों व कानून को ताक पर रखकर बांकीमोंगरा के ढाबाओं में शराब जमकर परोसी जा रही हैं, और प्रशासन इन पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा हैं।

जिसको लेकर स्थानीय निवासियों में प्रशासन के खिलाफ भारी रोष है। उल्लेखनीय हैं जो ग्राहकों को लुभाने के लिए शराब का प्रबंध करते है, जिससे वे मोटा मुनाफा कमा रहे हैं। ढाबा मेंन रोड़ के पास होने के कारण शराबियो की वजह से वहा का माहौल खराब होता है और शराबी अक्सर वहा से गुजर रहे राहगीरों से लड़ते हैं। शराब के नशे में लोग कई बार तो बेशर्मी पर उतारू हो जाते है।

ढाबे की आड़ में चल रहा अवैध अहाता

यहाँ ढाबे की आड़ पर ढाबा मालिक द्वारा खाद्य सामग्री के साथ डिस्पोजल पानी पाउच एव शराब मदप्रेमियों को सर्व सम्पन्न सुविधाओं के साथ बैठाकर शराब उपलब्ध कराया जाता हैं। स्थानीय आबकारी विभाग द्वारा कार्यवाही न ही होने से ढाबा संचालक का हौसला बुलन्द हैं।लिहाजा इस घटनाक्रम से शासन-प्रशासन पर तो सवाल उठ ही रही हैं। वही ढाबा के पास आए दिन सड़क दुर्घटना लगातार हो रहा हैं। इसके साथ रोजाना शराब के नशे में शराबी के साथ वाद विवाद देखने को मिलता हैं। जबकि बात प्रशासनिक नियम कानून की जाए तो किसी भी सार्वजनिक स्थल पर व ढाबा, होटल सहित चखना दूकानों पर किसी भी प्रकार से शराब बेचना, पिलाना एवं वातावरण बनाये रखना सख्त पाबन्द हैं। जिसके उल्लंघन पर पुलिस प्रशासन एवं आबकारी विभाग को राज्य शासन-प्रशासन के द्वारा सख्त कार्यवाही का हिदायत व दिशानिर्देश दिया गया है जिसके बावजूद जिला कोरबा के बांकीमोंगरा स्थित ढाबा में खुलेआम शराब परोसने एवं पिलाने का कार्य कराया जा रहा हैं ।

खबर प्रकाशित व स्थानीय जनप्रतिनिधि , पत्रकारों के शिकायत के बावजूद नहीं हुआ शराब परोसना बंद 

बांकीमोंगरा में होटल संचालकों मनोबल इतना बढ़ चुका है कि जनप्रतिनिधियों की बात नहीं सुनते मानो हौसला इतना बुंलद हो चुका है , आबकारी विभाग व पुलिस प्रशासन कार्यवाही से कतराते हैं । क्या कह सकते है , आबकारी विभाग व पुलिस की छत्रछाया में यह अवैध करोबार बांकीमोंगरा में फल फूल रहा है होटल संचालकों का कहना कि जिसको जो करना है कर ले हमारे कुछ नहीं कर सकते है । इस प्रकार खुलेआम बैठाकर शराब पिलाना एवं खिलाना आम जनता यह सोचने के लिए मजबूर कर दे रही है ।

आबकारी विभाग एवं पुलिस प्रशासन आखिर क्यों है मौन

क्या पैसा ही भगवान है अपनी जवाबदारी अपने कर्तव्य के प्रति सजग एवं निष्ठा पूर्वक अपने कर्तव्यों का पालन करने की कसम खाने वाले आबकारी विभाग के अधिकारी व पुलिस प्रशासन इन होटल संचालकों को पूरी तरह से चंद रुपयों के चलते छूट दे रखी है । जिससे क्षेत्र की जनता बांकीमोंगरा के आमजनों में आक्रोश पनप रहा है साथ मिडिया के माध्यम से कई बार खबर प्रकाशित होने के बावजूद इस ढाबाओं में कोई आबकारी व पुलिस विभाग ध्यान नहीं दे रहे हैं । खबर वायरल करने पर होटल संचालकों जहा बैठाकर शराब पिलाया जाता उनके द्वारा संविधान के चौथे स्तंभ पत्रकारों को भी धमकाया जाता है , लिखित शिकायत व मारपीट की धमकी दी जाती है ।

अब देखना यह है कि इस बार भी खबर प्रकाशित होने के बाद बांकीमोंगरा के ढाबों में शराब पिलाना बंद होते है कि नहीं या होटल संचालकों का हौसले और बढ़ते जाएगें हमारे समाचार के माध्यम से कुछ दिन में विडियों दिखाया जाएगा कि किस तरिके से खुलेआम ढाबों में शराब पिलाया जा रहा है ।

ईश्वर जांगड़े की रिपोर्ट

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
502FansLike
50FollowersFollow
800SubscribersSubscribe

अधिवक्ता संघ चुनाव के मतपत्रों की गिनती फिर से होः अधिवक्ता...

जिला अधिवक्ता संघ चुनाव में गड़बड़ी की आशंका को लेकर अधिवक्ताओं के एक वर्ग ने चुनाव अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर पुनः मतगणना कराए...

Related News

- Advertisement -