स्वराज टुडे हेल्थ टिप्स : फैटी लिवर एसिड मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं, पहला एल्कोहल फैटी एसिड, दूसरा नॉन-एल्कोहल फैटी एसिड। फैटी लिवर एसिड होने से कोलेस्ट्रॉल लेवल और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या शुरू हो सकती है।

क्या आप ये जानते हैं कि लिवर (Liver) आपके शरीर का बेहद ही महत्वपूर्ण अंग होता है। ये जब सही तरह से काम करना बंद कर दे, तो लिवर की कोशिकाओं पर फैट जमा होने लगते हैं। फैट जब लिवर में एकत्रित हो जाता है, तो इसे फैटी लिवर (Fatty Liver) कहते हैं। कुछ लोगों के लिवर की कोशिकाओं में भी फैट जमा हो जाता है। जब आपके लिवर में 5 प्रतिशत से भी अधिक फैट जमा होता है, तो लिवर सही तरीके से काम करना बंद कर सकती है। लिवर में सूजन हो जाता है। फैटी लिवर एसिड (Fatty Liver Acid) मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं, पहला एल्कोहल फैटी एसिड, दूसरा नॉन-एल्कोहल फैटी एसिड। फैटी लिवर एसिड होने से कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ जाता है। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या शुरू हो सकती है। इसके अलावा, वजन बढ़ना, वायरल हो सकता है।

फैटी लिवर एसिड के लक्षण (Symptoms of Fatty Liver Acid) 

1.आपको थकान महसूस हो सकती है।

2.बेचैनी सा आभास हो सकता है।

3.खाने की इच्छा में कमी

फैटी लिवर एसिड के घरेलू उपाय:

1.हल्दी का करें इस्तेमाल

हल्दी बेहद ही गुणकारी हर्ब या मसाला है। इसमें करक्युमिन, एंटी-ऑक्सीडेंट्स जैसे तत्व होते हैं, जो शरीर के फैट को आसानी से पचाने की क्षमता में वृद्धि करता है। स्वस्थ लिवर के लिए हल्दी का सेवन जरूर करें, इससे लिवर डिटॉक्सीफाई भी होती है। गर्म पानी में थोड़ा सा हल्दी पाउडर मिलाकर पिएं। आप चाहें तो हल्दी दूध के नियमित सेवन से किसी भी तरह के संक्रमण से खुद को बचाए रख सकते हैं।

2.नींबू का करें सेवन

विटामिन सी से भरपूर नींबू एंटी-ऑक्सीडेंट्स का काम करता है। नींबू एक तरह का एंजाइम का निर्माण करता है, जिससे लिवर में मौजूद टॉक्सिन बाहर निकल जाते हैं। इसके लिए बस आप प्रत्येक दिन नींबू पानी का सेवन करें।

3.एप्पल साइडर वेनेगर रखेगा लिवर हेल्दी

सेब का सिरका यानी एप्पल साइडर वेनेगर फैटी लिवर एसिड से बचाता है। लिवर में फैट को जमा नहीं होने देता है। वजन कम होता है। लिवर में होने वाले सूजन से बचाए रखता है। एक गिलास गर्म पानी लें। इसमें आधा चम्मच शहद, 1 चम्मच सेब का सिरका मिलाएं। सिरके वाले इस हेल्दी पानी को दिन में दो बार पिएं।

4.आंवले का यूं करें सेवन

फैटी लिवर एसिड से बचाव के लिए आंवला लाभदायक हो सकता है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट, विटामिन सी होने के कारण ये लिवर की कार्यप्रणाली को दुरुस्त करता है। यह लिवर से फैट भी निकालता है। आप कच्चा आंवला प्रतिदिन खाएं। एक गिलास गुनगुने पानी में दो चम्मच आंवला पाउडर मिलाकर पिएं।