प्राचार्य पी.पटेल को मारने की मिली धमकी, उरगा पुलिस ने दर्ज किया मामला

- Advertisement -

प्राचार्य ने पुलिस से की सुरक्षा की मांग,
कुर्सी पर बैठते ही तुमान प्राचार्य को मिली धमकी

कोरबा/स्वराज टुडे : उरगा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बरपाली निवासी एवं शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला तुमान के प्राचार्य पुरुषोत्तम पटेल को मारने पीटने तथा षड्यंत्र पूर्वक झूठे मामले में फंसाने की धमकियां मिल रही है। धमकियों से परेशान उनका परिवार भयभीत होकर सुरक्षा की मांग कर रहा है। मामले की शिकायत प्राचार्य श्री पटेल ने उरगा थाने में की है। ग्राम तुमान के ही निवासी नसर खान द्वारा प्राचार्य को मारने पीटने तथा झूठे आपराधिक षड्यंत्र में फ़साने की मंशा से धमकियां दी जा रही है। वही इस कृत्य में स्थानीय राजाराम पैकरा को भी सामिल होना बताया गया।

हाईकोर्ट ने हाल ही में प्राचार्य के साथ किया है न्याय

शिकायत पत्र के अनुसार प्राचार्य को उच्च न्यायालय के आदेश पर पुनः प्राचार्य के रूप में शासकीय उच्चतर माध्यम विद्यालय तुमान में बहाल किया गया है जो कई लोगों के गले नही उतर रहा है। ऐसे ही षड्यंत्र का सहारा लेकर पहले भी उन्हें निलंबित किया जा चुका है लेकिन सच्चाई की जीत हुई। उच्च न्यायालय से उन्हें दोष मुक्त कर दिया गया है ।

प्राचार्य पी पटेल ने स्कूल को दिलाए हैं कई अवार्ड

अवगत हो कि प्राचार्य पी पटेल ने शिक्षा व्यवस्था में काफी सुधार कर जिले का नाम रौशन किया है उन्हें खेल, शिक्षा, एनएसएस, स्काउड एवं गाइड जैसे क्षेत्रों में जिले में प्रथम स्थान तक प्राप्त किया है। वही यहां के होनहार बच्चे कक्षा 12वीं में राज्य के टॉप 10 में भी अपना नाम शामिल कर चुके है। परंतु पिछले कुछ समय से जब प्राचार्य को षड्यंत्र पूर्वक फंसाकर निलंबित किया गया ,उसके बाद से स्कूल में कई गतिविधियों पर विराम लग गया था तथा शिक्षा व्यवस्था बदहाल होकर चरमरा गई।

प्राचार्य पी पटेल ने बताया कि आज स्कूल में शिक्षा व्यवस्था का बुरा हाल है जिसे सुधारने की कवायद फिर से शुरु होगा जिसपर कुछ स्थानीय लोगों द्वारा जानबूझकर रुकावट डाला जा रहा है।

*निमेष राठौर की रिपोर्ट*

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
502FansLike
50FollowersFollow
800SubscribersSubscribe

अधिवक्ता संघ चुनाव के मतपत्रों की गिनती फिर से होः अधिवक्ता...

जिला अधिवक्ता संघ चुनाव में गड़बड़ी की आशंका को लेकर अधिवक्ताओं के एक वर्ग ने चुनाव अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर पुनः मतगणना कराए...

Related News

- Advertisement -