बालको का ऊर्जा संरक्षण की दिशा में सराहनीय कदम, वित्तीय वर्ष 2022 में 22085 गीगा जूल ऊर्जा संरक्षित की

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
बालकोनगर/स्वराज टुडे: वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) 2050 तक कार्बन उत्सर्जन को शून्य करने की प्रतिबद्धता के अनुरूप अपने संचालन को कार्बन रहित करने के लिए मजबूत कदम उठा रही है। वित्तीय वर्ष 2022 में बालको ने 22085 गीगा जूल की ऊर्जा बचत की।

ऊर्जा संरक्षण के उद्देश्य से बालको ने अपने कास्ट हाउस में स्पेसिफिक हैवी फ्यूल ऑयल (एचएफओ) की खपत को 10 प्रतिशत कम करने तथा उर्जा खपत ( उत्पादन के एक इकाई में उपयोग उर्जा) को 15 प्रतिशत तक कम और वित्त वर्ष 2022 में इनगॉट कास्टिंग मशीन में 20 तथा वायर रॉड मिल मशीन में 31 प्रतिशत तक स्क्रैप जनरेशन को कम किया है। स्क्रैप उत्पादन कम होने से रीमेल्टिंग प्रक्रिया में कमी से ऊर्जा की खपत कम हुई है ।

‘बालको’ बायोमास ब्रिकेट्स के साथ थर्मल पावर उत्पादन के लिए अपने ईंधन मिश्रण को हरित कर रहा है, जिसमें सालाना 0.43 मिलियन टन CO2 समकक्ष जीएचजी उत्सर्जन को कम करने की क्षमता है। वर्षों से पर्यावरण और ऊर्जा संरक्षण में सक्रियता के परिणामस्वरूप वैश्विक बेंचमार्क के अनुसार बालको की करेंट इफीसिएंसी, भारत के एल्यूमिनियम बिजनेस में उसके समकक्षों के बीच पॉटलाइन में कुल डीसी और एसी बिजली की खपत सबसे कम होने की वजह से उर्जा बचत हुई।

इस उपलब्धि पर बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक अभिजीत पति ने कहा कि हमारा एल्यूमिनियम स्मेल्टर भारत में सबसे अधिक ऊर्जा कुशल संयंत्रों में से एक है और ऊर्जा के बेंचमार्क को आगे बढ़ाने के लिए हम पूरी तरह कटिबद्ध हैं। सतत् व्यापार विकास के प्रति हमारी प्रतिबद्धता, ऊर्जा संरक्षण के उच्चतम मानकों को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य पर्यावरण, सामुदायिक उत्तरदायित्व, गवर्नेस और नवाचार के उच्चस्तरीय मानदंडों को अपनाकर कार्बन फुट प्रिंट कम करना तथा आने वाली पीढ़ियों के लिए एक स्थायी भविष्य बनाने के लक्ष्य को प्राप्त करना है। बालको प्रबंधन हरित एवं उज्ज्वल भविष्य निर्माण की दिशा में योगदान दे रहा है।

बालको कास्ट हाउस में बिजनेस पार्टनर मेसर्स व्रजेश्वरी एलएलपी कंपनी के साइट इंचार्ज प्रियव्रत सिन्हा ने कहा कि पर्यावरण के प्रति प्रतिबद्धता वाली कंपनी के रूप में बालको अपने कास्ट हाउस में हमेशा ऊर्जा संरक्षण से जुड़े प्रयासों के सफल कार्यान्वयन, बिजली बचत, एचएफओ और अन्य ऊर्जा खपत को कम करने के उद्देश्य से तरीकों को सुधारने और खोजने का प्रयास करता है। बालको अपने प्रचालनों में अत्याधुनिक स्मार्ट तकनीकों को प्रोत्साहन देता है।

ऊर्जा और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में समर्पित प्रयास हेतु बालको को कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। वर्ष 2022 में बालको ने सर्वोत्तम परिचालन प्रथाओं के कार्यान्वयन के माध्यम से करेंट इफीसिएंसी और बिजली की खपत जैसे मानकों के तहत, भारतीय और खाड़ी स्मेल्टरों में पॉटलाइन-1 द्वारा प्राप्त बेंचमार्क प्रदर्शन के लिए आईएमसी पुरस्कार जीता है। फाइव स्टार कटेगरी में बालको को प्रतिष्ठित ‘कलिंगा एनवायरमेंट एक्सीलेंस अवार्ड’ मिला है जो भारत सरकार के पर्यावरण, वन और ‘जलवायु परिवर्तन मंत्रालय और राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड तथा राज्य पर्यावरण प्रभाव आंकलन प्राधिकरण द्वारा संगठन में सरकार के विभिन्न अधिनियमों और नियमों के तहत किए गए योगदान को मान्यता देता है।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
501FansLike
50FollowersFollow
780SubscribersSubscribe

हिन्दू नववर्ष धूमधाम से मानने को लेकर आयोजन समिति द्वारा आयोजित...

सामाजिक संगठन, नगर की सभी धार्मिक मठ मंदिरों से जुड़े लोग माता बहनें युवा साथी नगर के प्रबुद्ध जन सभी सम्मिलित हुए बिलासपुर/स्वराज टुडे:- खाटू...

Related News

- Advertisement -