राज्य सरकार के आदेश के खिलाफ भाजपा ने खोला मोर्चा, 15 दिनों में आदेश नहीं लिया गया वापस तो 16 मई को करेंगे जेल भरो आंदोलन

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
कोरबा/स्वराज टुडे: टांसपोर्ट नगर स्थित भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान पूर्व गृहमंत्री व रामपुर विधायक ननकी राम कंवर ने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में अघोषित अराजकता और आपातकाल की स्थिति उत्पन्न हो गई है । प्रदेश में तमाम हिंदू संगठन एकजुट हो हो रहे हैं और वे मिलकर अपने त्योहारों को हर्षोल्लास के साथ मना रहे हैं । लेकिन प्रदेश की सरकार हिंदुओं को एकजुट होता नहीं देख पा रही है इसीलिए दमनकारी नीति अपनाते हुए 22 अप्रैल को ऐसा आदेश जारी किया है जो अंग्रेजों के काले कानून से कम नहीं है । पूरे प्रदेश की जनता को इस आदेश का विरोध करना चाहिए ।

इस प्रेसवार्ता में उपस्थित पूर्व संसदीय सचिव और प्रदेश उपाध्यक्ष लखन लाल देवांगन ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार चरमोत्कर्ष पर है ।लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। अपनी मांगों को लेकर जिस संगठन अथवा विभाग द्वारा धरना प्रदर्शन किया जा रहा है उसे राज्य सरकार दबाने की कोशिश कर रही है। हर विभाग में कमीशनखोरी का बोलबाला है। DMF फंड में 36% तक कमीशन खोरी की जा रही है। भारतीय जनता पार्टी राज्य सरकार के दमनकारी आदेश का पुरजोर विरोध करती है और इसे वापस लेने के लिए 15 दिन का अल्टीमेटम देती है । अगर उनकी मांग पूरी नहीं होती है तो 16 मई को प्रदेश स्तर पर हर जिले के मुख्यालयों में जेल भरो आंदोलन चलाया जाएगा ।

इस प्रेसवार्ता में पूर्व गृहमंत्री और रामपुर विधायक ननकीराम कंवर, पूर्व संसदीय सचिव व प्रदेश उपाध्यक्ष लखन लाल देवांगन के अलावा भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ राजीव सिंह , भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष वैशाली रत्नपारखी, भाजयुमो के जिलाध्यक्ष पंकज सोनी, संतोष देवांगन, मनोज मिश्रा और संदीप सहगल उपस्थित थे ।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
502FansLike
50FollowersFollow
800SubscribersSubscribe

अधिवक्ता संघ चुनाव के मतपत्रों की गिनती फिर से होः अधिवक्ता...

जिला अधिवक्ता संघ चुनाव में गड़बड़ी की आशंका को लेकर अधिवक्ताओं के एक वर्ग ने चुनाव अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर पुनः मतगणना कराए...

Related News

- Advertisement -