छत्तीसगढ़
दुर्ग/स्वराज टुडे: सीजी बोर्ड के 10वीं और 12वीं की परीक्षा के परिणाम जारी हो गए है। इसमें लड़कियों ने बाजी मारी है। इसमें 10वीं में रायगढ़ की सुमन पटेल और 12वीं में रायगढ़ की ही कुंती साव ने टॉप किया है। इसी के साथ दुर्ग जिले के हरनाबांधा की बेटी माधुरी ने भी प्रदेश में 8वां स्थान हासिल किया है, जिसके पिता ने उसे रिक्शा चलाकर पढ़ाया।

गरीबी भी नहीं तोड़ सकी माधुरी का हौसला

माधुरी सारथी दुर्ग के हरनाबांधा की रहने वाली हैं। इनके पिता वीरू सारथी रिक्शा चलाते हैं। वहीं उनकी मां देव कुमारी घरों में चौका-बर्तन का काम करती हैं। उनकी दादी भी झाडू पोछा का काम करती हैं। घर की विपरीत परिस्थिति और संसाधनों की कमी होने के बावजूद माधुरी ने अपनी मेहनत से ये सफलता हासिल की है।

तकियापारा सरकारी स्कूल की छात्रा है माधुरी

माधुरी दुर्ग के तकियापारा सरकारी स्कूल की छात्रा हैं। उन्हें 12वीं में 94 परसेंट मिले हैं। माधुरी का रिजल्ट आने के बाद से उनके घर और मोहल्ले में खुशी का माहौल है। बता दें कि माधुरी एक कमरे के घर में रहती हैं, लेकिन उन्होंने इन तकलीफों को अपनी पढ़ाई के आड़े नहीं आने दिया और मन लगाकर पढ़ाई की जिसका परिणाम आज उन्हें मिला है।माधुरी ने साबित कर दिया है कि व्यक्ति में कुछ कर गुजरने का जुनून हो तो दुनिया की हर बाधाओं को पार किया जा सकता है ।

परिजनों में खुशी का माहौल

माधुरी के परिजन बताते हैं कि उनके पिता ने अपनी बेटी का बहुत साथ दिया। संसाधनों की कमी होने के बावजूद भी उनसे जो बन पड़ता उन्होंने किया और यही कोशिश की कि माधुरी को किसी चीज की कमी ना हो। परिजनों ने बताया कि उनकी मां भी उसे बहुत सहयोग करती हैं। पूरा परिवार माधुरी को सहयोग करता है, जिसकी वजह से ये रिजल्ट आया है। माधुरी की इस सफलता से परिवार में बेहद खुशी है। इस उपलब्धि के लिए माधुरी अपने माता पिता और गुरुजनों को श्रेय देती है।

विधायक और महापौर ने दी बधाई

रिजल्ट घोषित होने के बाद दुर्ग शहर विधायक अरूण वोरा ने माधुरी के घर पहुंचकर परिजनों को बधाई दी। इसके अलावा दुर्ग नगर निगम के महापौर धीरज बाकलीवाल ने भी उन्हें बधाई दी है। माधुरी के शिक्षकगण भी उनकी उपलब्धि को देखकर गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं ।


यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे घोषित, सुमन पटेल ने 10वीं और 12वीं में रितेश साहू ने किया टॉप