वरिष्ठ कांग्रेस नेता मनहरण लाल राठौर अक्सर मजदूरों के साथ बैठकर करते हैं भोजन, अपने नेता की साधारण जीवन शैली से प्रभावित हैं मजदूर

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
जांजगीर-चाम्पा/सक्ती: “हमर छत्तीसगढ हमर बोली हमर भाषा कोनो काम छोटे बड़े नई होय,सब काम एक बराबर हे। हमर काम बूता ला करवैय्या भी हमरे कस होथे ओहि मन हमर संगी साथी हमर जैसे इंसान हे। मै कभू ओमन ला मजदूर नई मानव बल्कि परिवार मांनथव,मै उही मन संग खेत खार जहां भी बुता काम करथन खाय के समय भात बासी खाय ले अच्छा लगथे काम बुता करवैयया हमर संगी साथी मन संग खेत खार जहां भी होय सब एके संग खाथन” ये बात वरिष्ठ कांग्रेस नेता मनहरण लाल राठौर और उनकी धर्मपत्नी सक्ती विधानसभा क्षेत्र की पूर्व विधायक श्रीमती सरोजा मनहरण राठौर ने कही ।

विधानसभा अध्यक्ष डॉ महंत के करीबी माने जाते हैं श्री राठौर

श्री मनहरण लाल राठौर और सक्ती विधानसभा की पूर्व विधायक सरोजा मनहरण राठौर जी कांग्रेस प्रदेश प्रतिनिधि विधानसभा सक्ती(छ.ग.) विधानसभा अध्यक्ष माननीय श्री चरणदास महंत जी के करीबी माने जाते हैं। प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधि श्री राठौर जी कांग्रेस पार्टी के लोकप्रिय जन नायक हैं। जांजगीर चांपा जिला तथा कोरबा जिला में कांग्रेस पार्टी के लोकप्रिय मिलनसार, सभी के दुख सुख में शामिल होने व साथ देने वाले मनहरण जी पिता स्वर्गीय श्री,हरनारायण व स्व.गुलाब बाई राठौर के सुपुत्र है।

पिता के दिए संस्कारों व आदर्शों को श्री राठौर मानते हैं अमूल्य निधि

श्री मनहरण राठौर जी के पिता जी स्व. हरनारायण राठौर का नाम बड़े इज्जत सम्मान से समाज में लिया जाता रहा। वह सच्चे नेक इंसान थे। समाज के ही नहीं हर वर्ग के लोग उनकी उदारता, सहज, सरल व्यवहार रखने के कारण उनका आदर करते थे । वह जानेमाने हस्ती थे। उन्होंने अपने बच्चो को अच्छी शिक्षा तथा नेक परवरिश दिया ।वे अपने बच्चो को सीख देते हुए कहते थे कि नाम तभी रहेगा जब काम सही रहेगा। किसी भी स्थिति में नाम बदनाम होने जैसा काम मत करना । हर इंसान एक है, हर किसी की जरूरत पर काम आते रहना, किसी में भेद मत करना चाहे गरीब हो मजदूर हो, काम छोटा बड़ा नहीं होता । काम चाहे छोटा हो या बड़ा काम काम होता है काम और कर्म करते रहना है। एक ना एक दिन बेहतर से बेहतर परिणाम मिलेगा। अपने पिता के आदर्शो पर चलते हुए सक्ती विधानसभा चुनाव में सक्ती से सरोजा मनहरण राठौर जी विधायक बनीं।  उस दौर में बीजेपी के बड़े नेता को भारी मतों से  हराया।

अक्सर मजदूरों के साथ ही भोजन करते हैं वरिष्ठ कांग्रेस नेता मनहरण लाल राठौर

कोरबा जिला अंतर्गत ग्राम खरवानी के गौंटिया परिवार में जन्मे मनहरण राठौर जी लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हैं।  स्वराज टुडे न्यूज़ की टीम जब उनसे मिलने गई तो वे आरामशीन परिसर में मजदूरों के साथ बैठकर खाना खाते हुए दिखे । सुर्खियां बटोरने और फोटोग्राफी करवाने के लिए ये कोई प्री प्लान योजना नहीं थी । हमारे संवाददाता से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि मै आम नागरिक हूं, खेती किसानी के साथ हर उस काम को करता हूं जो मजदूरी करने वाले हमारे मित्र साथी किया करते हैं। काम करने में कोई शर्म नहीं है । हर किसी को काम करना चाहिए । कोई भी काम छोटा बड़ा नहीं होता सब बराबर है । मै किसान का बेटा हूं किसानी नहीं करूंगा तो क्या करूंगा । वहीं पूछे जाने पर मजदूरों ने कहा कि उन्हें अपने नेता के साथ भोजन करने में काफी गर्व महसूस होता है।  साधारण जीवन शैली वाले श्री राठौर से वे अत्यंत प्रभावित हैं । सादा जीवन और उच्च विचार रखने वाले नेता विरले ही देखने को मिलते हैं । शायद यही वजह है कि कांग्रेस पार्टी के लोकप्रिय नेताओं में श्री मनहरण लाल राठौर का भी नाम शुमार है ।

 

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
501FansLike
50FollowersFollow
780SubscribersSubscribe

कांकेर में पुलिस-नक्सली के बीच जबरदस्त मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, एक...

छत्तीसगढ़ रायपुर/स्वराज टुडे: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) से मिली बड़ी खबर के अनुसार, यहां के कांकेर (Kanker) में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच जोरदार मुठभेड़ हुई। वहीं...

Related News

- Advertisement -