सगाई के ठीक पहले युवक को उठा ले गई पुलिस, जब सच्चाई आई सामने तो परिजनों के पैरों तले खिसक गई जमीन

- Advertisement -

छत्तीसगढ़
धमतरी/स्वराज टुडे: छत्तीसगढ़ के धमतरी के केरेगांव थाना क्षेत्र के कुकरेल में पुलिस ने एक युवक को सगाई होने के ठीक पहले गिरफ्तार कर लिया। युवक की गिरफ्तारी के बाद पीछे-पीछे पुलिस थाना पहुंचे परिवार को तब बड़ा झटका लगा, जब गिरफ्तारी की वजह पता चली।

लव, सेक्स और धोखा का मामला

पुलिस ने परिवार वालों को पूरी सच्चाई बताई। युवक के खिलाफ की गई लिखित शिकायत की कॉपी भी दिखाई। दरअसल मामला इश्क में धोखा और दैहिक शोषण का है। इसके चलते ही सगाई से ठीक पहले युवक को गिरफ्तार कर लिया गया।

शादी से पूर्व प्रेमिका से शारीरिक संबंध बनाना पड़ा महंगा 

धमतरी की केरेगांव पुलिस ने बताया कि कुकरेल में रहने वाले 25 साल के देव नारायण ने पहले एक युवती से प्रेम संबंध बनाए, जो लंबे समय तक चला। इस बीच कई बार युवती से शारीरिक संबंध भी बने। देवनारायण युवती को शादी करने का झांसा देकर बार बार दैहिक शोषण करता रहा। फिर अचानक वो युवती से दूरी बनाना शुरू कर दिया। इसका कारण भी उसने युवती को नहीं बताया। इसके बाद युवती ने देवनारायण द्वारा दूरी बनाने के कारणों का पता लगाना शुरू किया तो वो भी हैरान रह गई। सच्चाई पता चलने के बाद उसने पुलिस से लिखित शिकायत की। लड़की की लिखित शिकायत पर आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है।

दूसरी जगह तय हो गई थी शादी

दरअसल देवनारायण की एक दूसरी युवती से शादी तय हो चुकी थी। बीते रविवार को सगाई होने वाली थी। पुलिस के मुताबिक इस बात की खबर देवनारायण की प्रेमिका को लगी तो उसने केरेगांव थाना में शिकायत दर्ज करवा दी। केरेगांव पुलिस ने मामला रजिस्टर कर लिया और फौरन देवनारायण के घर पहुंच गई। उस समय देवनारायण अपने परिवार के साथ सगाई में जाने के लिए तैयार था, लेकिन पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस थाने ले जाकर पूछताछ की। इसके बाद कानूनी कार्रवाई कर उसे न्यायिक रिमांड पर जेल दाखिल करवाया। पुलिस मामले में जांच कर रही है।

कहां चले गए पीड़ित युवती के संस्कार

भारतीय संस्कृति में शादी से पूर्व शारीरिक संबंध बनाना पाप समझा जाता है । पीड़ित युवती के मुताबिक युवक ने शादी का झांसा देकर संबंध बनाया तो यहां सवाल उठता है कि वह झांसे में आई ही क्यों । आज हर दिन अखबारों और न्यूज चैनलों में शादी का झांसा देकर दैहिक शोषण की खबरें प्रकाशित होती रहती है। बावजूद इसके लड़कियां सबक नहीं लेती । उन्हें अपने माता-पिता के दिए संस्कारों का भी ख्याल नहीं रहता । लड़कियों को यहां समझना चाहिए कि सच्चे प्यार मे शारीरिक संबंधों की कोई जगह नहीं होती ।जो प्रेमी शादी से पूर्व ही इसकी डिमांड करें तो समझ जाना चाहिए कि उसके मन में बहुत बड़ा खोट है।

रही बात दैहिक शोषण की तो यह बगैर सहमति के संभव ही नहीं । तो फिर इस मामले में युवती भी बराबर की दोषी हुई । लेकिन अफसोस संविधान में ना तो ऐसी युवती को दोषी मानने का प्रावधान है और ना ही उन्हें सजा देने का । जिंदगी बर्बाद होती है तो केवल लड़के की ।

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
502FansLike
50FollowersFollow
800SubscribersSubscribe

अधिवक्ता संघ चुनाव के मतपत्रों की गिनती फिर से होः अधिवक्ता...

जिला अधिवक्ता संघ चुनाव में गड़बड़ी की आशंका को लेकर अधिवक्ताओं के एक वर्ग ने चुनाव अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर पुनः मतगणना कराए...

Related News

- Advertisement -