छत्तीसगढ़
बिलासपुर/स्वराज टुडे: कोयला का खेल किसी से छुपा नही है अवैध लोडिंग के साथ अवैध कोयला एवं खनिज का कारोबार को रोकने के लिए खनिज विभाग ने तुर्काडीह पुल में जांच चौकी बनाई थी जो खनिज से सम्बंधित सभी गाड़ियों को चैक करने का कार्य करती है और अवैध कार्य पर समय समय पर कार्यवाही करभी रही थी लेकिन अब ये इसको रोक पाने में खनिज जांच चौकी नाकाम हो रही है क्योंकि जांच चौकी तुर्काडीह पुल में है और खनिज,कोयले से भरी वाहन सेंदरी पुल से पास हो रहे है इनकी न तो कोई जांच हो रही है और न ही किसी प्रकार की अवैध कार्यवाही इसके अलावा सरकार को राजस्व की हानि हो रही वो अलग ।

हाईवे का काम अधूरा लेकिन आवागमन चालू

बिलासपुर जिस स्पीड से बढ़ रहा है उसी शहर के बाहर से हाइवे निकाले जा रहे है । रायपुर से कोरबा जाने वाला हाइवे अब तुर्काडीह होकर नही सेंदरी होकर जाएगा जो अभी पूरा बना भी नही है लेकिन उस पर हैवी ट्रेलर का आवागमन शुरू हो गया है। खासकर वो कोयले से लदे रहते हैं जिनकी जांच भी नही हो पा रही क्योकि जांच चौकी तुर्काडीह में उसके पहले से ही ये कोयले के ट्रेलर बिना जांच निकल रहे है ।

जांच नही होने पर अवैध कारोबार फल फूल रहा है

सेंदरी पुल पर खनिज जांच चौकी न होने पर इसका फायदा कोयले का अवैध कारोबार के साथ क्षमता से अधिक लोडिंग वाले वाहनों का आवागमन हो रहा है इन अवैध कारोबार करने वालो को अब किसी जांच चौकी का डर नही है क्योंकि इस रास्ते में कोई खनिज जांच चौकी नही है जिसका फायदा अवैध कारोबार करने वाले भरपूर उठा रहे है ।

जानिए क्या कहते हैं खनिज अधिकारी 

बिलासपुर खनिज अधिकारी मिश्रा जी का कहना है कि जांच चौकी को सेंदरी ट्रासंफर करने प्रकिया की जा रही है। बहुत जल्द ये कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा और विधिवत सभी खनिज वाहनों की जांच शुरू हो जाएगी।

गोविंद शर्मा की रिपोर्ट