“स्टडी इन हांगकांग” 7 अप्रैल को आयोजित इंडिया एजुकेशन फेयर में छात्र तलाशेंगे उच्च शिक्षा के अवसर

- Advertisement -

मुंबई/स्वराज टुडे : दिल्ली के छात्रों को “स्टडी इन हांगकांग” इंडिया एजुकेशन फेयर में 7 अप्रैल 2024 को, हांगकांग के आठ प्रमुख विश्वविद्यालयों में मौजूद उच्च शिक्षा के अवसरों के बारे में जानने के लिए आमंत्रित किया गया है। इस शिक्षा मेले का आयोजन, द ललित, नई दिल्ली में किया जाएगा। यह आयोजन, हांगकांग के अग्रणी विश्वविद्यालयों के प्रतिनिधियों को एक जगह पर बुलाकर वैश्विक शैक्षणिक अवसरों को अनलॉक करने का ठोस प्रयास है। इसमें भाग लेने वालों को हांगकांग में पढ़ाई के फायदे के बारे में जानने और हांगकांग एसएआर सरकार द्वारा तय अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए नवीनतम अनुकूल नीतियों को समझने का एक अनूठा और बेशकीमती अवसर मिलेगा।

“स्टडी इन हांगकांग” अभियान का प्राथमिक उद्देश्य है, भारत के छात्रों के साथ जुड़ना, अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देना और हांगकांग में उच्च शिक्षा विकल्पों के बारे में गहन जानकारी प्रदान करना है। मुंबई से शुरू होकर अहमदाबाद, हैदराबाद और जयपुर तक पहुंची यह पहल दिल्ली में इंडिया एजुकेशन फेयर के साथ समाप्त हो रही है। इस अंतिम कार्यक्रम में छात्र और अभिभावक हांगकांग में शिक्षा प्राप्त के संबंध में समझ-बूझ कर फैसला करने के लिए विश्वविद्यालय के प्रतिनिधियों के साथ सीधे बातचीत कर सकते हैं।

इस कार्यक्रम का आयोजन समिति का प्रतिनिधित्व करते हुए, हांगकांग विश्वविद्यालय में स्नातक प्रवेश और अंतर्राष्ट्रीय छात्र आदान-प्रदान इकाई के निदेशक, प्रोफेसर बेनेट यिम ने साक्षात्कार में कहा, “हम हांगकांग को अपना गंतव्य मानने वाले भारतीय छात्रों के साथ संबंधों को बढ़ावा देने और उन्हें अपने शैक्षणिक मार्ग पर आगे बढ़ाने के लिए व्यापक मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए गहराई से समर्पित हैं। ‘स्टडी इन हांगकांग’ अभियान भारत में छात्रों, अभिभावकों और शैक्षणिक सलाहकारों को ताज़ातरीन, सटीक और प्रासंगिक जानकारी देने के लिए सावधानीपूर्वक तैयार किया गया है। हमारा मानना है कि सहयोग और सक्रिय सहभागिता हमारी पहल की सफलता के लिए महत्वपूर्ण है। हमें हर तरह के सवालों का जवाब देने में खुशी होगी क्योंकि इनसे हांगकांग में अपनी शिक्षा को आगे बढ़ाने में रुचि रखने वाले छात्रों का उल्लेखनीय उत्साह ज़ाहिर होता है।

यह भी पढ़ें: B.Ed डिग्रीधारी सहायक शिक्षकों को हाई कोर्ट ने दिया बड़ा झटका, उनकी नियुक्ति को निरस्त करने का आदेश जारी

यह भी पढ़ें: ये हैं यूपी बिहार के 10 बाहुबली..अपराध जगत से राजनीति में रखा कदम और सियासत में मचा दी खलबली

यह भी पढ़ें: मन को एकाग्र करने अपनाएं ये तरीका, हर काम में मिलेगी सफलता

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
800SubscribersSubscribe

एसएचएम शिपकेयर ने ओएनजीसी के लिए भारत का पहला तेज रफ्तार...

मुंबई/स्वराज टुडे : भारतीय जहाजों के निर्माण, समुद्री और अपतटीय क्षेत्र में अग्रणी ताकत और जीवनरक्षक नौकाओं की मशहूर प्रदाता, एसएचएम शिपकेयर ने आधुनिक...

Related News

- Advertisement -