हरियाणा की मॉडल दिव्या पाहुजा मर्डर केस में चौंकाने वाला खुलासा, अब तक 7 आरोपी गिरफ्तार

- Advertisement -

दिल्ली/स्वराज टुडे: हरियाणा के गुरुग्राम में गैंगस्टर की गर्लफ्रेंड और मॉडल दिव्या पाहुजा हत्याकांड में पुलिस ने चार्जशीट दाखिल कर दी है। इस हत्याकांड में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। पुलिस ने इस हत्याकांड में 40 से अधिक गवाह बनाए हैं।

हथियार मुहैया कराने वाला नदीम अब तक फरार

गवाहों में दिव्या के परिचित, होटल स्टाफ, पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर, पुलिसकर्मी आदि शामिल हैं। अब तक अरेस्ट हो चुके 7 आरोपियों के खिलाफ ये चार्जशीट पेश की गई है जबकि हथियार मुहैया कराने वाले नदीम को फरार बताया गया है। पुलिस का कहना है कि अभी हम उसकी तलाश कर रहे हैं।

मुख्य आरोपी अभिजीत ने किए चौंकाने वाले खुलासे

वहीं केस में दिव्या की हत्या के मुख्य आरोपी बनाए गए अभिजीत के बयान सामने आए हैं। जिसमें उसने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। अभिजीत ने बयान में पुलिस को बताया कि वो साल 2014 में दिव्या के संपर्क में आया और दोनों में अवैध संबंध थे।

पैसों के लिए डिमांड करने लगी थी दिव्या, देती थी धमकी

2016 में गैंगस्टर संदीप गाडोली के कथित एनकाउंटर के बाद दिव्या भी जेल चली गई थी। जुलाई 2023 में जमानत पर आने के बाद दिव्या फिर से अभिजीत से मिलने लगी। वो दिव्या को करीब साढ़े 3 लाख रुपये दे चुका था, जिसमें 1 लाख 40 हजार रुपये का एक मोबाइल और बाकी रुपये नकद दिए गए। लेकिन वो और रुपये मांगने लगी तो अभिजीत ने इनकार कर दिया। दिव्या ने धमकी दी कि वो मेरी बातें मेरे परिवार और दोस्तों को बताकर बेइज्जती कर देगी।

अभिजीत ने दावा किया कि 1 जनवरी 2024 को दिव्या दिल्ली साउथ एक्स में उसके घर आई तो वहां बलराज और रवि बंगा के अलावा प्रवेश भी था। बाद में मेधा भी वहां आ गई थी और कुछ देर में ही वो चली गई।

वहीं पर दिव्या ने रुपयों के लिए दबाव बनाया तो बेइज्जती के डर से बलराज और दिव्या को लेकर अभिजीत मिनी कूपर कार से गुड़गांव के होटल आ गया। यहां उसके लिए तय कमरा नंबर 114 की चाबी नहीं मिली तो कमरा नंबर 111 खुलवा लिया। बलराज वहां से चला गया। अभिजीत और दिव्या कमरे में चले गए।

होटल में दिव्या ने लड़की की मांग

अभिजीत ने दावा किया है कि यहीं पर दिव्या ने उसे कहा कि मैं समलैंगिक हूं और मुझे एक लड़की चाहिये। तब अभिजीत ने मेधा को कॉल कर बुलाया। दिव्या ने फिर से रुपयों के लिए दबाव बनाया तो 2 जनवरी की शाम करीब 6 बजे गोली मारकर दिव्या की हत्या कर दी। फिर वो कुछ देर कमरे में बैठा रहा और फिर बाहर घूमता रहा। रात 7 बजकर 50 मिनट पर मेधा का कॉल आया तो वो उससे मिलने नीचे गया। मेधा की कैब के रुपये भी होटल के काउंटर से ही दिलवाए थे।

अभिजीत ने ही की थी गोली मारकर हत्या

मॉडल दिव्या पाहूजा की हत्या बस स्टैंड के पास स्थित सिटी पॉइंट होटल में 2 जनवरी 2024 को हुई थी। बलदेव नगर निवासी 27 साल की दिव्या की उसके परिचित अभिजीत ने ही गोली मारकर हत्या कर दी थी।

होटल के दो कर्मचारियों हेमराज व ओमप्रकाश के साथ मिलकर शव को नीचे ले जाकर बीएमडब्ल्यू कार में रखकर ठिकाने लगाने के लिए साथियों बलराज गिल और रवि बंगा के हवाले कर दिया।

3 जनवरी को सेक्टर-14 थाना में एफआईआर दर्ज कर पुलिस ने सबसे पहले अभिजीत, हेमराज व ओमप्रकाश को अरेस्ट किया। फिर एक युवती मेधा को अरेस्ट किया गया। जिसके बाद अभिजीत को हथियार मुहैया कराने वाले रोहतक निवासी प्रवेश को अरेस्ट किया गया।

शव को ठिकाने लगाने वाले बलराज गिल और रवि बंगा के फरार होने के चलते पुलिस की ओर से इनके खिलाफ एलओसी जारी कराने के साथ ही 50-50 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था। बाद में बलराज गिल और रवि बंगा को भी अरेस्ट कर लिया गया।

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका, यहां ‘आप’ के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कोमल हूपेंडी ने किया भाजपा में प्रवेश, सीएम साय ने किया स्वागत

यह भी पढ़ें: युवक के आँसू देख केमिकल कारोबारी ने दे दी नौकरी, फिर उसी नौकर ने अपने मालिक को दी खौफनाक मौत, पढ़िए रोंगटे खड़े कर देने वाली खबर

दीपक साहू

संपादक

- Advertisement -

Must Read

- Advertisement -
504FansLike
50FollowersFollow
800SubscribersSubscribe

सर्पदंश पर शीघ्र उपचार ही जीवन बचाने की कुंजी, पीड़ित मासूम...

छत्तीसगढ़ कोरबा/स्वराज टुडे: सर्पदंश के मामलों में पीड़ित को समय पर शीघ्र उपचार का लाभ दिया जाना ही उसका जीवन बचाने की कुंजी है। समय...

Related News

- Advertisement -